आदिवासी हित के सवाल पर हेमंत सरकार का चेहरा बेनकाब हुआ : सालखन मुर्मू

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

पूर्व सांसद व सेंगेल अभियान के अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि आखिर पुलिस अफसर रूपा तिर्की के मामले में हेमंत सरकार का जन विरोधी चेहरा बेनकाब हो गया है। सारे प्रपंचों को दरकिनार कर मान्य झारखंड उच्च न्यायालय ने इस मामले पर सीबीआई जांच का आदेश देकर झारखंड सरकार के मुंह में एक जोरदार थप्पड़ मारा है। न्याय की प्रक्रिया को जीवित रखा है। इस जीत के लिए रूपा के माता-पिता, सभी सहयोगी, जन संगठनों और वरिष्ठ वकील राजीव कुमार तथा पत्रकार तीर्थ नाथ आकाश के साथ सभी संघर्षशील जनता बधाई के पात्र हैं। सेंगेल ने कल 31.8.21 को भी 5 प्रदेशों में हेमंत सरकार का पुतला जलाकर सात मांगों के साथ

सरना कोड आंदोलन: जनगणना के दौरान आदिवासी 'अन्‍यान्‍य' कॉलम में लिखेंगे 'सरना धर्म' - सालखन

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

हमारी माँग है भारत के प्रकृति पूजक आदिवासियों को 2021 की जनगणना में भारत सरकार  " सरना धर्म कोड " देकर सम्मानित और शामिल करे। यदि भाजपा की केंद्रीय सरकार ऐसा नहीं करती है तो भारत के आदिवासी अन्यान्य कालम में सरना धर्म लिखेंगे और अपनी संघर्ष जारी रखेंगे। 2011 की जनगणना में सरना धर्म लिखाने वालों की संख्या लगभग 50 लाख थी। 2021 में इसे 2 करोड़ से ज्यादा करने की कोशिश होगी। जो बौद्ध ( 84 लाख) और जैन (44 लाख ) धर्म से ज्यादा हो जायेगी और सिख धर्म के करीब हो जायेगी। 

रूपा तिर्की के संदिग्ध मौत पर सीबीआई जांच न्याय की मांग है, गुप्ता कमीशन नहीं- सालखन मुर्मू

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

रूपा तिर्की की मौत पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। आदिवासी सेंगेल अभियान के अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू ने कहा है कि रूपा तिर्की मौत की जांच सीबीआई से कम बिल्‍कुल स्‍वीकार्य नहीं है। झारखंड सरकार द्वारा घोषित न्‍यायिक जांच के लिए गुप्‍ता कमीशन के गठन को उन्‍होंने आईवाश करार दिया। एक प्रेस विज्ञप्ति में सालखन बताते हैं कि झारखंड सरकार के मेमो नंबर -1860 तिथि- 8.6.2021 के मार्फत बोरियो थाना केस नंबर -127/ 2021 तिथि  9.5.2021 पर  रूपा तिर्की, सब इंस्पेक्टर, झारखंड पुलिस की अप्राकृतिक मौत की जांच के लिए गठित जस्टिस विनोद कुमार गुप्ता कमीशन बिल्कुल अनावश्यक और तथ्यों को छिपाने और भटकाने की कोशिश मात

टीएसी संशोधन पर सालखन की सख्‍त प्रतिक्रिया

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

आदिवासी सेंगेल अभियान के अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू ने टीएसी नियमावली संशोधन पर सख्‍त प्रतिक्रिया दी है। एक विज्ञप्ति जारी कर सालखन ने बताया है कि TAC (आदिवासी सलाहकार परिषद)  पर अमिताभ  कौशल के हस्ताक्षर से झारखंड सरकार द्वारा जारी 4.6.2021 का नोटिफिकेशन संविधान के पांचवी अनुसूची (अनुच्छेद 244(1))  प्रावधानों के  तकनीकी और आत्मा के खिलाफ प्रतीत होता है। पांचवी अनुसूची के पार्ट बी के धारा 4 की उप धारा 3 abc के तहत टीएसी के लिए रूल्स- रेगुलेशन बनाने और नियुक्ति आदि का अधिकार केवल राज्यपाल को है, मुख्यमंत्री को नहीं। यह अधिसूचना संविधान का खुला उल्लंघन है।

सालखन ने रूपा तिर्की मौत की जांच सीबीआई से कराने के लिए राज्‍यपाल को पत्र लिखा

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

झारखंड सरकार इस गंभीर मामले पर चुप्पी साध कर पूरे मामले को किसी षड्यंत्र के तहत रफा-दफा करने की कोशिश में प्रतीत होती है। रूपा तिर्की के मामले पर उनके परिजनों ने मान्य झारखंड हाई कोर्ट का दरवाजा भी खटखटा दिया है। आरोप है कि कोई पंकज मिश्रा जो बारहेट विधानसभा में माननीय विधायक हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि भी हैं, के दबाव में सब कुछ उल्टा किया जा रहा है। 

रांची/जमशेदपुर: सालखन मुर्मू ने रूपा तिर्की की संदिग्धं मौत के मामले मे झारखंड के राज्य पाल को पत्र लिखकर सीबीआई जांच की मांग की है। आदिवासी सेंगेल अभियान के अध्य‍क्ष सालखन मुर्मू ने पत्र में कहा है कि झारखंड के मुख्यूमंत्री हेमन्त  सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा वर्तमान जांच को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं। पत्र में मुर्मू ने कहा, झारखंड प्रदेश के अधिकांश जिलों में शेड्यूल एरिया (अनुसूचित क्षेत्र) विद्यमान हैं। अतः यहां पांचवीं अनुसूची के मार्फत " अनुसूचित क्षेत्रों और  अनुसूचित जनजातियों के प्रशासन और नियंत्रण " के सकारात्मक तत्वों का प्रभावी क्रियान्वयन लाजिमी है। तत्सम्बन्धी

"रूपा तिर्की को न्याय दो" के नारे के साथ झारखंड सहित पांच राज्‍यों में राज्‍य सरकार का पुतलादहन व धरना

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

सा‍हेबगंज की दारोगा रूपा तिर्की की संदिग्ध मौत पर झारखंड सरकार के रवैया के खिलाफ आदिवासी सेंगेल अभियान और अन्य संगठनों की ओर से एकदिवसीय सांकेतिक धरना और राज्‍य के कई इलाकों में झारखंड सरकार का पुतला दहन 21 मई 2021 को किया जा रहा है। यह कार्यक्रम पांच  प्रदेशों में किया जा रहा है, यह जानकारी आदिवासी सेंगेल अभियान के अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू ने एक विज्ञप्ति जारी करके दी है। 

आदिवासी आंदोलनों के मार्गदर्शक थे स्‍व. डॉ निर्मल मिंज - सालखन मुर्मू

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

झारखंड के जानेमाने आदिवासी बुद्धिजीवी स्‍व. डॉ निर्मल मिंज को श्रद्धांजलि देते हुए राष्‍ट्रीय सेंगल अभियान के अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू कहते हैं- जब झारखंड गठन पर 15. नवम्बर 2000 को बाबूलाल मरांडी की बीजेपी सरकार आधी रात को राजभवन, रांची में काबिज हो गई तो पूरा झारखंड ठगा सा महसूस करने लगा। आदिवासी समाज दिल से दुखी था। चूँकि बीजेपी हमेशा से झारखंड बिरोधी था। परिस्थिति को भांप कर वह बाद में वनांचल मांगने लगा था।

दारोगा रूपा तिर्की की कथित आत्‍महत्‍या पर सालखन मुर्मू का हेमंत सरकार पर हमला

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

जमशेदपुर/रांची: सेंगर अभियान के अध्‍यक्ष सालखन मुर्मू ने एक विज्ञप्ति जारी करके हेमंत सरकार पर हमला बोला है। दारोगा रूपा तिर्की और भोगनाडीह के रामेश्‍वर मूर्मू की मौत को हत्‍या बताते हुए एक बयान दिया है। बयान में कहा गया है, हेमंत को सत्ता के लिए राजनीति करनी है, भले आदिवासी समाज बर्बाद हो जाय। चूँकि jmm+ cong+rjd को वोट की राजनीति में बीजेपी से कोई डर नहीं है। बीजेपी कभी जीत नहीं सकेगी तो jmm को क्या चिंता?

कोरोनाग्रस्‍त सूरज सिंह बेसरा (आजसू के संस्‍थापक महासचिव) का बिलखना.. 

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

आजसू के संस्‍थापक महासचिव सूरज सिंह बेसरा कोरोना से ग्रस्‍त हैं। हालत अच्‍छी नहीं है।    उनका बिलखना वाकई मर्माहत कर रहा है। याद कीजिए झारखंड अलग राज्‍य आंदोलन के वह दिन..

लैंड-बैंक और लैंड- पूल के नाम पर फिर से झारखंड को लूटने की साजिश में लगी हेमन्‍त सरकार : सालखन मुर्मू

:: न्‍यूज मेल डेस्‍क ::

जमेशदपुर/रांची: राष्‍ट्रीय सेंगल अभियान के अध्‍यक्ष व पूर्व सांसद सालखन मुर्मू ने आरोप लगाया है कि झारखंड की हेमन्‍त सरकार एक बार फिर से सीएनटी व एसपीटी ऐक्‍ट को चोर दरवाजे से तोड़ने की साजिश में लगी है। मुर्मू ने झामुमो को निशााने पर लेते हुए कहा कि 1993 में साढ़े तीन करोड़ में झारखंड को बेचा था। मुर्मू ने हालिया मसला उठाते हुए कहा कि वह बुधवार को राज्‍यपाल से मिलकर उनसे दरख्‍वास्‍त करेंगे कि वह शहरीकरण के विस्तार के नाम पर प्रस्तावित बिल - "झारखंड क्षेत्रीय विकास प्राधिकार संशोधन विधेयक - 2021" पर हस्ताक्षर ना करें। मुर्मू ने यह जानकारी एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके दी है।